No One Has Ever Become Poor By Giving!

  • Phone:+91 9953659128
  • Email: info@muskanforall.com
Franchise Volunteer Donate Us

Blog Details

GURU KA GOCHAR DHANU RASHI ME 2019 | GURU KA RASHI PARIVARTAN | JUPITAR IN SAGITTARIUS

गुरु के धनु राशि में गोचर का प्रभाव -2019

बृहस्पति  ग्रह(Jupiter)  अथवा गुरु  ग्रह  सौर मंडल (solar system) का सबसे बड़ा ग्रह (largest planet)  है  इसलिए कहा जाता है की सभी ग्रह  एक और अकेला  गुरु एक ओर |गुरु  जीवकारक  ग्रह (living planet)  है   |

हम सभी जानते हैं कि बृहस्पति धीरे-धीरे ( slow moving planet) चलता है  एक राशि में इसके गोचर  की अवधी 12 महीने की होती है , यह एक राशि में   पुरे एक वर्ष तक रहता है |गुरु का गोचर (transit) आपके जीवन की महत्वपूर्ण घटनाओं (important in your life)जैसे शादी,वाहन, मकान,संतान,नौकरी आदि को एक्टिवेट (active) करता है।

गुरु  के  गोचर  का मनुष्य के जीवन पर  गहरा प्रभाव होता है  भारतीय ज्योतिष शास्त्र (Indian astrology)में  बृहस्पति के गोचर का अपना ही महत्व है |

 पहले आइये जानते है की गोचर क्या है  ब्रह्मांड(universe) में स्थित सभी   ग्रह मार्ग में अपनी गति (चाल ) के अनुसार चलते रहते है | सभी ग्रह चलायमान (movable) यानि की चलने वाले है सभी अपनी- अपनी रफ़्तार से चलते है कोई ग्रह  जल्दी चलता है तो  कोई धीमी गति से  | ग्रहो के इस गति अथवा  चाल  को गोचर कहते है |सभी   ग्रह (planets)अपनी- अपनी चाल से  चलते हुए  एक राशि से दूसरे  राशि  जाते है तो ये होता  है गोचर |

बृहस्पति  ग्रह  5 नवबर 2019  , मंगलवार 00:30 बजे वृश्चिक राशि से धनु राशि(Sagittarius) में प्रवेश करेंगे धनु राशि  बृहस्पति की अपनी राशि है | और 30 मार्च 2020 तक वे धनु राशि में ही रहेंगे तत्पश्चात  मकर राशि में प्रवेश करेंगे इस दौरान गुरु का यह राशि परिवर्तन आपकी राशि पर क्या प्रभाव डालता है आइये जानते है |

गुरु के धनु राशि में गोचर का प्रभाव -2019  मेष राशि (Aries):-

बृहस्पति आपकी राशि से नौवें भाव (ninth house) में गोचर कर रहे है ।   नवम भाव भाग्य का भाव (sense of luck)  होता है|  गुरु का   इस भाव में गोचर  आपके भाग्य और उच्च शिक्षा ( luck and higher education) के लिए अच्छे परिणाम देगा। आप विदेश (abroad trip)  यात्रा की योजना भी बनाएंगे। यह आपको अध्यात्म की ओर ले जाएगा। आपकी बुद्धि अपने आप बढ़ जाएगी।  देव गुरु यहाँ  बैठ कर आपके ज्ञान को बढ़ाएंगे और आध्यात्मिक ( spiritual work)  कार्यो में आपकी रूचि को बढ़ाएंगे ।  आपको आध्यात्मिक स्थानों(visit spiritual places) की यात्रा का मौका मिलेगा । आपकी पुरानी बीमारी(chronic illness) अब ठीक हो जाएगी।   आप बृहस्पति के आशीर्वाद से अपने विरोधियों और दुश्मनों पर नियंत्रण करने में सक्षम(capable) हो सकते हैं। आपको अच्छी खबर सुनने को मिलेगी।    कुछ नए अवसर सामने आ सकते हैं।  अगर आप  नया रोजगार या नौकरी (changing a new job ) बदलने की सोच रहे है तो समय अनुकूल है  हालाँकि, आने वाले अवसर से सकारात्मक(positive result) परिणाम आने में देरी हो सकती है। धैर्य  से काम ले |   शादी योग्य जातको  के लिए शादी के योग प्रबल है

उपाय (remedy)  :- गुरु के इस गोचर के दौरान विष्णुशाह्स्त्र नाम का पाठ करे |  प्रत्येक गुरुवार को गाये  को चने की दाल और गुर खिलाये |