No One Has Ever Become Poor By Giving!

  • Phone:+91 9953659128
  • Email: info@muskanforall.com
Franchise Volunteer Donate Us

JANGALO SE MANAV KO MILNE WALE LABH

Jangalo Se Manav Ko Milne Wale Labh

JANGALO SE MANAV KO MILNE WALE LABH

जंगलों से मानव को मिलने वाले लाभ
प्राचीन काल से ही जंगलों की उपयोगिता के बारे में सभी जानते हैं। जंगलों से मिलने वाले लाभों से भी सभी वाक़िफ़ हैं।

जंगलों के लाभ
  • जंगलों के कारण हमारी पृथ्वी के वातावरण में समानता बनी रहती है.
  • जंगलों के कारण मिट्टी का कटाव नहीं होता है.
  • पेड़ पौधों से हमें ऑक्सीजन मिलती है जो कि प्रत्येक जीवित प्राणी के लिए बहुत आवश्यक है.
  • पेड़ पौधे कार्बनडाई जैसी ज़हरीली गैसों को अवशोषित कर लेते है.
  • जंगलों से हमें कीमती चंदन जैसी लकड़ियां प्राप्त होती है.
  • जंगलों से हमें बीमारियों को दूर भगाने के लिए आयुर्वेदिक जड़ी-बूटियां मिलती है.
  • पेड़ पौधों के कारण  वर्षा अच्छी होती हैं जिससे हर तरफ हरियाली ही हरियाली रहती है.
  • जंगलों के कारण आपातकालीन आपदा, सूखे की स्थिति, आंधी, तूफान और बाढ़ कम आती है.
  • जंगल अन्य जीव जंतुओं के रहने का घर है

जंगलों के कुछ प्रत्यक्ष और अप्रत्यक्ष लाभ होते हैं। प्रत्यक्ष लाभ तो सभी को सामने दिखाई देते हैं परन्तु अप्रत्यक्ष लाभ के बारे में किसी-किसी को ज्ञान होता है।

जंगलों से सीधे लाभ -
प्रारम्भ में जंगल मानव को भोजन, वस्त्र, घर सब कुछ प्रदान करते थे। फिर भी मानव ने जंगलों का कटान कर अपनी खेती, व बस्ती बनाई। लेकिन मानव को जंगलों से भोजन पकाने के लिए तथा घर बनाने के लिए लकड़ी व खाने के लिए फल मिलते रहे। मनुष्य ने अपनी सुख-सुविधा के लिए जंगलों पर आधारित अनेक उद्योग-धन्धे खोल लिए हैं। रबर, लाख, गोद, दियासलाई, कागज, पैकिग बोर्ड, भलाई, रेलवे आदि उद्योग जंगलों पर आधारित है। फर्नीचर बनाने के कारखाने जंगलों से ही चलते हैं। जंगलों के पेड़ों का सुन निकाल कर मानव अपनी स्वार्थ-सिद्धि करता है।

जंगलों से अप्रत्यक्ष लाभ -
जंगल मानव को जीजंगल प्रदान करते हैं। जंगल तो प्राणीमात्र के ऐसे सच्चे मित्र हैं कि वे उनके खतरों को स्वयं ग्रहण कर उन्हें लाभ प्रदान करते हैं। श्वास जीव मात्र का जीजंगल है। जब हम श्वास लेते हैं तो ओक्सीजन वायु हमारे हृदय में जाती है और हम में प्राण धारण करती है और जब हम अपने श्वास बाहर छोड़ते हैं उस समय कार्बन-डाइऑक्साइड गैस को बाहर निकालते हैं। इस श्वास प्रक्रिया में पेड़ हमारी बड़ी सहायता करते हैं। पेड़ जीवों की रक्षा के लिए ऑक्सीजन छोड़ते है और कार्बन डाइआंकसाइड को ग्रहण करते हैं। कार्बन डाइऑक्साइड मानव के लिए हानिकारक है। पेड़ के न होने से वायु में उसकी मात्रा बढ़ती जाती है, जिससे जीवमात्र के लिए खतरा पैदा हो जाता है।

उपसंहार
आज के युग में मनुष्य अपने व्यक्तिगत लाभ के लिए वनों को काटता जा रहा है। घरों और उद्योगों को बनाने के लिए और लकड़ी से बनी वस्तुओं की माँग में बढ़ौतरी के कारण निरंतर वनों को काटा जा रहा है। मनुष्य यह भूलता जा रहा है कि वन उसके लिए ज्यादा महत्वपूर्ण है और उसे उसकी जरूरत है। मुस्कान एनजीओ द्वारा संदेश हम सबको वनों को काटने की बजाय ज्यादा से ज्यादा वृक्ष लगाने चाहिए और वनों को सुरक्षित करके वातावरण को सुरक्षित करना चाहिए। हमें वनों को सुरक्षित करने के लिए टीम बनानी चाहिए जो कि वनों को काटने पर निगरानी रखने चाहिए।

Enquiry Form