No One Has Ever Become Poor By Giving!

  • Phone:+91 9953659128
  • Email: info@muskanforall.com
Franchise Volunteer Donate Us

MAHILA SASHAKTIKARAN KA MAHATAV

Mahila Sashaktikaran Ka Mahatav

MAHILA SASHAKTIKARAN KA MAHATAV

महिला सशक्तिकरण का महत्व
किसी भी देश की तरक्की तभी संभव हैं जब वहाँ की महिलाओं का विकास सही ढंग से होगा! इसीलिए महिलाओं के विकास के लिए देश भर में कई कार्य किए जा रहे हैं! ताकि महिलाओं के विकास को बढ़ावा देने के लिए प्रोत्साहन किया जा सके! परन्तु आज भी देश में महिलाओं पर कई अत्याचार हो रहे है उन्हें देखने के बाद पता चलता हैं कि महिलाओं का अभी भी पूरे तरीके से विकास नहीं हो पाया हैं! इसीलिए हमारे देश में महिला सशक्तिकारण का बहुत ही महत्व हैं!

1)सामाजिक विकास होना       
अगर हम अपने देश को एक शक्तिशाली देश बनाना चाहते हैं और देश का विकास चाहते हैं तो हमें उसके लिए हमारे देश की महिलाओं को भी शक्तिशाली और मजबूत बनाना होगा! क्योकि महिला सशक्तिकरण का मुख्य लाभ समाज से ही जुड़ा हैं! हमारे समाज में महिलाओं का विकास बहुत जरूरी हैं क्योकि अगर एक महिला का विकास होता हैं तो उसके पूरे परिवार का विकास होता हैं! अगर एक परिवार में एक महिला शिक्षित होगी तो वह अपने पूरे परिवार को शिक्षित बनाने का प्रयास करेगी और आने वाले समय में हमें पढ़े-लिखे नौजवान मिलेंगे और देश के विकास करने में अपना योगदान दे सकेंगे!

2)
घरेलू हिंसा में कमी होना
घरेलू हिंसा किसी भीं महिला के साथ हो सकती हैं, ऐसा जरूरी नहीं कि घरेलू हिंसा सिर्फ अनपढ़ महिलाओं के साथ ही होती हैं बल्कि यह पढ़ी-लिखी महिलाओं के साथ भी होती हैं! बस फर्क सिर्फ इतना होता हैं कि पढ़ी-लिखी महिलाएं अपने साथ हो रही हिंसा के खिलाफ आवाज उठाती हैं जबकि अनपढ़ महिलाएं इन सब के खिलाफ आवाज उठाने से डरती हैं! अगर महिलाओं का विकास होगा तो देश में होने वाली घरेलू हिंसा में कमी आएगी और साथ ही महिलाएं ऐसे काम करने वालों को सजा भी दिलवाने के लिए आगे आयेंगी!

3)
लड़कियों कोआत्मनिर्भर बनाना
हमारे देश में लड़कियों को बचपन से घर के कामों तक सीमित रखा जाता हैं क्योकि उन्हें यह सिखाया जाता हैं कि आगे जाकर उन्हें घर की ही देखभाल करनी हैं! अभी भी गावों में लड़कियों को भर पढ़ाई के लिए नहीं भेजा जाता बल्कि घर के काम ही सिखाये जाते हैं जो उनके भविष्य के गलत हैं और देश के लिए भी! देश में लड़कियां होने से देश की 40 प्रतिशत आबादी अशिक्षित होती हैं! इसीलिए अगर हम अपने देश की लड़कियों को आत्मनिर्भर नहीं बनेंगे तो वह सिर्फ रसोई तक  ही सीमित रहे जायेंगी!

4)
गरीबी कम करने के लिए
महिला सशक्तिकरण का मुख्य उद्देश्य है गरीबी को कम करना! आज के समय में महंगाई बहुत बढ़ गयी हैं! जिसके चलते सिर्फ पुरुषों द्वारा कमाए गए धन से परिवार का गुजारा करना बहुत मुश्किल हैं इसीलिए महिलाओं की अतिरिक्त आय परिवार को गरीबी के रास्ते से बाहर लाने में मदद करती हैं! इसीलिए महिलाओं को शिक्षित होना ही जरूरी नहीं हैं बल्कि कामकाजी होना भी जरूरी हैं!

5)
महिलाओं को प्रतिभाशाली बनाना
कई लड़कियों में बहुत प्रतिभा होती हैं परन्तु उन्हें सही मार्गदर्शनं और शिक्षा नहीं मिल पाती जिसकी वजह से वह अपनी प्रतिभा का सही इस्तेमाल नहीं कर पाती! इसीलिए अगर महिलाओं को सही ढंग से सशक्तिकरण किया जाए तो वह अपने हुनर की पहचान कर सकेंगी और देश को भी प्रतिभाशाली महिलाएं मिलेंगी और देश के विकास के लिए कार्य करेंगी!

निष्कर्ष
मुस्कान एनजीओ के द्वारा हम समाज को यह बताना चाहते है कि देश में महिलाओं का बहुत ही महत्व हैं! इसीलिए महिलाओं को शिक्षित कर उन्हें आगे बढ़ने के अवसर प्रदान करने चाहिए! ताकि वह भी देश के विकास में अपना योगदान दे सके! और यदि महिलायें जितनी ज्यादा शिक्षित होगी देश से उतनी ही ज्यादा गरीबी दूर होगी!

Enquiry Form