No One Has Ever Become Poor By Giving!

  • Phone:+91 9953659128
  • Email: info@muskanforall.com
Franchise Volunteer Donate Us

MAHILA SASHAKTIKARAN SE MAHILAO KO HONE WALE FAYADE

Mahila Sashaktikaran Se Mahilao Ko Hone Wale Fayade

MAHILA SASHAKTIKARAN SE MAHILAO KO HONE WALE FAYADE

महिला सशक्तिकरण से महिलाओं को होने वाले फायदे
एक महिला अपने परिवार में कई तरह की भूमिका निभाती हैं और उसमें कामयाब भी रही हैं परन्तु फिर भी महिलाओं की स्थिति सामाजिक और आर्थिक तौर पर चिंताग्रस्त ही होती है एवं ज्यादातर वह दयनीय जीवन जीने को ही मजबूर होती हैं। ऐसे में उनके सामजिक और आर्थिक माहौल को अनुकूल बनाने के लिए ज्यादा ध्यान देने की जरूरत हैं ! महिला सशक्तिकरण से महिलाओं को बहुत फायदे हुए हैं, जो इस प्रकार हैं:-

1)
महिला सशक्तिकरण समन्वित विकास के लिए जरूरी है:          
किसी भी देश के भविष्य को बेहतर बनाने के लिए महिलाओं का सशक्तिकरण बहुत जरूरी हैं क्योकि वह अपने परिवारों का प्रबंधन तो करती ही है परन्तु इसके साथ-साथ परिवार वालों की आर्थिक जरूरतों को पूरा करने के लिए कठिन परिश्रम भी करती हैं  और इस प्रकार वह दोनों जिम्मेदारी बड़ी अच्छी तरह से निभाती हैं! इसीलिए कभी भी अपने परिवार में माँ, बहन या बेटी के महत्व को नजरअंदाज नहीं करना चाहिए! आज के समय में अंतरराष्ट्रीय स्तर पर भी महिलाओं ने अपना स्थान बनाया है!

2)
खेलों में असाधारण प्रदर्शन करना
अंतराष्ट्रीय स्तरों पर सफलता प्राप्त करके महिलाओं ने यह साबित कर दिया की अगर उन्हें मौका दिया जाए तो किसी भी कार्यों में पुरुषों से पीछे नहीं हैं! साक्षी मल्लिक, पीवी सिंधु या दीपा कर्माकर जैसी लड़कियों ने कदम-कदम पर लैंगिक बाधाओं को सफलतापूर्वक तोड़ते हुए पूरी दुनिया के सामने भारत के राष्ट्रीय ध्वज का सम्मान बढ़ाया। परन्तु इससे कोई मना नहीं कर सकता की भारत जैसे पुरुष प्रधान देश में इन महिलाओं ने कितनी बाधाओं का सामना किया होगा और देश में उच्च स्थानों में अपना नाम कमाया!

3)
भेदभाव के शिकार
कितने वर्षों से हमारे समाज में भेदभाव और पुरुषप्रधान देश होने की वजह से महिलाओं को अपने परिवारों और पूरे समाज में भी हिंसा और अत्याचारों का सामना करना पड़ता हैं! दुनिया  लगभग सभी देशों ऐसी ही स्थिति हैं! कुछ यूरोपीय देशों को छोड़कर दुनिया के ज्यादातर देशों में भारत के जैसे ही महिलाऐं गंभीर लैंगिक भेदभाव की शिकार हैं। महिला सशक्तिकरण इन सब में महिलाओं की मदद करती हैं! ताकि पुरुष और महिलाओं के बीच हो रहे भेदभाव को मिटाया जा सके!

4)
सामान अवसर उपलब्ध कराना
गांव के क्षेत्रों में तो महिलाओं की स्थिति बहुत बुरी हैं और साथ ही अर्थव्यस्था में भी उनका योगदान न के बराबर हैं! वे देश की आबादी का लगभग 50 प्रतिशत हैं लेकिन गांव की महिलाओं को अपने सपने पूरे करने के लिए कोई अधिकार नहीं दिए जाते और इसीलिए वह अपनी क्षमताओं का भी पूरे तरीके से उपयोग नहीं कर पाती! इस सब को देखते हुए हमारा देश तब तक एक विकसित देश नहीं बन पायेगा जब तक कि महिलाओं को सशक्त बनाने के लिए सही प्रयास न करे! इन सब में महिला सशक्तिकरण महिलाओं की बहुत मदद करती हैं इनकी वजह से महिलाओं को अब सभी क्षेत्रों में विकास के सामान अवसर उपलब्ध कराए गए हैं!

5)
सकारात्मक परिवर्तन लाना
 महिलाओं को हर धर्म में एक विशेष दर्जा दिया जाता हैं उसके बावजूद भी महिलाओं के खिलाफ काफी तरह की बुरी प्रथाएं चल रही हैं लेकिन अब सकारात्मक परिवर्तन आना शुरू हो गया हैं और समाज में से नकारात्मकता धीरे-धीरे खत्म होने लगी हैं! महिलाओं के लिए सरकार ने कई संवैधानिक और कानूनी अधिकार भी लागू किए हैं, ताकि महिलाएं एक सार्थक एवं उद्देश्यपूर्ण जीवन जी सकें।

निष्कर्ष
महिला सशक्तिकरण की मदद से महिलाओं में अब अपने अधिकारों के प्रति जागरूकता बढ़ गयी हैं! जिसमे मुस्कान एनजीओ टीम भी हमारी मदद कर रही हैं! अगर यदि हम सही तरीके से महिला सशक्तिकरण करना चाहते हैं तो पुरुष प्रधान समाज में महिलाओं को महत्व देना चाहिए!