No One Has Ever Become Poor By Giving!

  • Phone:+91 9953659128
  • Email: info@muskanforall.com
Franchise Volunteer Donate Us

MAHILAO KO SASAKAT BANANA KE TARIKE

Mahilao Ko Sasakat Banana Ke Tarike

MAHILAO KO SASAKAT BANANA KE TARIKE

महिलाओं को सशक्त बनाने के तरीके
आज के समय में महिला सशक्तिकरण एक मुख्य विषय बन चुका हैं, खासकर पिछड़े और प्रगतिशील देशों में क्योकि इन देशों के लोगों को काफी समय लगा यह जानने में कि बिना महिलाओं की तरक्की और सशक्तिकरण के देश की तरक्की संभव नहीं हैं! महिलाएं अपने आर्थिक फैसलों, आय, संपत्ति और दूसरे वस्तुओं जैसी सुविधाओं को पाकर ही वह अपने सामाजिक स्तर को उंचा कर सकती है।

1)साफ पानी की उपलब्धता   
इस दुनिया में महिलाएं हर घंटे 200 मिलियन तक पानी खर्च करती हैं जो अक्सर गन्दा होता हैं और स्वास्थ्य के लिए भी हानिकारक होता हैं! अगर महिलाओं के पास स्वच्छ पानी होगा तो वे बहुत सारे काम कर सकते हैं इससे एक लड़की के बेहतर जीवन को खोलने में मदद मिलती हैं! इसके द्वारा महिलाओं के स्वास्थ्य को लकर बहुत ध्यान रखा जाता हैं!

2)
मुसीबत में लड़कियों का समर्थन करना
आज के समय में हजारों लड़कियों के साथ दुर्व्यवहार, बाल श्रम, तस्करी, बाल विवाह और अन्य अपराध होते रहते हैं! परन्तु इसके अनुसार लड़कियों की मदद की जाती हैं जैसे प्रशिक्षण, शिक्षा, परामर्श, चिकित्सा देखभाल, छोटे व्यवसाय ऋण, और अन्य कार्यक्रम आदि जिसमे महिलाएं हिस्सा ले सकती हैं!

3)
छोटा व्यवसाय में निवेश करके
महिलाओं को एक छोटे व्यवसाय में भी निवेश करने का अधिकार होना चाहिए! महिलाएं अपनी समझदारी और निपुणता से व्यवसाय को ऊँचा उठा सकती हैं!

4)
अपनी पसंद को चुनने का अधिकार
एक महिला को अपनी पढ़ाई, करियर और शादी आदि सभी मामलों में अपनी पसंद से सब कुछ करने का अधिकार होना चाहिए! इसके इलावा महिलाओं को परिवार में अपने आप को अंतिम व्यक्ति के रूप में न देख कर प्रथम व्यक्ति के रूप में देखना चाहिए क्योकि उसी के शेयर तो उसका पूरा घर चलता हैं! परिवार में महिला और पुरुष के लिए अलग-अलग नियम नहीं होने चाहिए दोनों को सामान रुप से देखना चाहिए! इसमें महिलाओं को आगे बढ़कर अपनी भूमिका निभानी होगी! तभी सशक्तिकरण होगा!

5)
नजरिये में बदलाव लाना जरूरी हैं
महिलाओं को सशक्त बनाने के लिए हर किसी व्यक्ति को अपना नजरिया बदलना होगा! परिवार वालों को बेटियों की भी उसी तरह परवरिश करनी चाहिए जिस तरह बेटों की की जाती हैं! समाज में लोगो को अपनी सोच को बदलना होगा! महिलाओं और पुरुषों के बीच फर्क खतम करना चाहिए! इसके साथ महिलाओं को अपने लिए फैसला लेने की भी क्षमता विकसित करनी होगी!

6)
अपनी सेहत का ध्यान रखना चाहिए
महिलाएं अपने परिवार का तो पूरा ध्यान रखती हैं परन्तु अपनी सेहत का बिल्कुल भी ध्यान नहीं रखती! और यही बात बेटियों पर भी लागू होती हैं! जितनी सेहत का ख्याल रखने की जरूरत पुरुषो की होती हैं उतनी ही महिलाओ को भी होती हैं! सशक्त शरीर से ही सशक्त समाज और राष्ट्र की स्थापना हो सकती हैं!

7)
हर महिला को मालूम हो अधिकार
महिलाओं को बेहतर बनाने के लिए सरकार ने महिलाओं को कुछ अधिकार दिए हैं, जिनका वह बिना किसी परेशानी के प्रयोग कर सकती हैं!

8)
महिलाएं ही बनाए कानून
आज के समय में आबादी का मुख्य कारण महिलाओं की संख्या में कमी हैं और ये बात हर जगह देखने को मिलती हैं! महिलाओं के पिछड़ेपण का एक मुख्य कारण ये भी हैं! महिलाओं के लिए कानून बनाने वालों में महिलाओं की भागीदारी बहुत जरूरी हैं! तभी महिलाओं की पीड़ा को देखते हुए नियम बनेगे!

निष्कर्ष
मुस्कान एनजीओ के द्वारा हम यह सन्देश पहुँच सकते है किमहुइलाओं के लिए बहुत ही उपयोगी नियम बनाये गए है जिनका महिलाओं को खुद ही सबसे पहले पालन करना होगा तभी समाज भी उन्हें अपनाएगा! महिलाएं अपने अधिकारों का सही उपयोग करके अपने भविष्य को सुधार सकती है !