A PHP Error was encountered

Severity: Notice

Message: Undefined offset: 0

Filename: views/blog-details.php

Line Number: 12

A PHP Error was encountered

Severity: Notice

Message: Trying to get property of non-object

Filename: views/blog-details.php

Line Number: 12

"/>

A PHP Error was encountered

Severity: Notice

Message: Undefined offset: 0

Filename: views/blog-details.php

Line Number: 13

A PHP Error was encountered

Severity: Notice

Message: Trying to get property of non-object

Filename: views/blog-details.php

Line Number: 13

" />

No One Has Ever Become Poor By Giving!

  • Phone:+91 9953659128
  • Email: info@muskanforall.com
Franchise Volunteer Donate Us

VAYU PRADUSHAN SE BACHAW KE UAPAY

Vayu Pradushan Se Bachaw Ke Uapay

VAYU PRADUSHAN SE BACHAW KE UAPAY

वायु प्रदूषण से बचाव के उपाय
प्रदूषण से हमें बहुत ही हानिकारक बीमारियां लग जाती हैं क्योकि हमारा प्रदूषण से बचना मुश्किल हो जाता हैं! क्योकि घर हो या बाहर, ऑफिस हो या कहीं और हम हर जगह ही प्रदूषण से घिरे रहते हैं! प्रदूषण से बचना एक मुश्किल काम हैं परन्तु नामुमकिन नहीं! इस समय हमारे देश में प्रदूषण एक मुख्य समस्या बना गया हैं! प्रदूषण कई प्रकार का होता हैं जैसे वायु प्रदूषण, जल प्रदूषण, ध्वनि प्रदूषण, मृदा प्रदूषण आदि! परन्तु इन सब में वायु प्रदूषण बहुत ज्यादा हानिकारक होता हैं! वायु प्रदूषण से खांसी, आंखों की रोशनी कमजोर होना,सिरदर्द रहना, फेफड़ों में संक्रमण होना आदि जैसी बीमारियां लग सकती हैं! क्योकि वायु प्रदूषण मनुष्य के शरीर में जल्दी असर करता हैं क्योकि यह मनुष्य द्वारा सांस लेते समय हवा के रूप में सीधे शरीर में प्रवेश कर जाता हैं! परन्तु प्रदूषण से बचकर हम इससे होने वाली बीमारियों से खुद को और अपने परिवार की सुरक्षा कर सकते हैं!

बचाव के उपाय
1) योग करना
वायु प्रदूषण से बचने के लिए रोज सुबह जल्दी उठकर ताज़ी हवा शरीर के अंदर लेनी चाहिए इसके लिए हमें रोज सुबह योग करना चाहिए! योग करने से हमारे शरीर में स्वच्छ हवा जाती हैं, योग करने से शरीर भी तंदरुस्त रहता हैं!

2)
रोज सुबह टहलने जाए
सुबह जल्दी उठकर सैर करने करने से हमारे शरीर को ताज़ी हवा मिलती हैं इससे कई बीमारियों को दूर किया जा सकता हैं! अगर घर के पास कोई गार्डन हैं तो हमें वहां जाकर पेड़ों और हरियाली के पास खड़े होकर लम्बी सांस अंदर खींचनी और बाहर छोड़नी चाहिए! जब पेड़ों से निकलने वाला ऑक्सीजन हमारे शरीर में जाता हैं तो हमारे शरीर में नई स्फूर्ति आ जाती हैं! अगर हम बाहर कही टहलने नहीं जा सकते तो छत पर ही खड़े होकर सांस को अंदर और बाहर छोड़ने की प्रक्रिया करनी चाहिए!

3)
चेहरे को मास्क से ढककर रखना चाहिए
अगर आसपास प्रदूषण की मात्रा ज्यादा है तो हमें चेहरे को मास्क से ढककर रखना चाहिए। इससे प्रदूषित हवा को शरीर मे जाने से रोका जा सकता हैं! इसके अलावा हमें ऐसी जगह जाने या रहने से बचना चाहिए जहां ज्यादा भीड़भाड़ हो या ज्यादा यातायात का दबाव हो। क्योकि ऐसी जगहों पर प्रदूषण बहुत ज्यादा होता हैं!

4)
फैक्ट्रियों के आस-पास जाने से बचे
इंडस्टियल क्षेत्रों के आसपास रहने या जाने से बचना चाहिए, क्योंकि यहां फैक्टियों की तादाद ज्यादा होती है और इन फैक्टियों से निकलने वाला धुआं कैमिकल युक्त होता है जो शरीर में पहुंचकर बीमारियां पैदा करता है।

5)
अधिक से अधिक पेड़ लगाने चाहिए
वायु प्रदूषण को रोकने के लिए अधिक से अधिक पेड़ लगाने चाहिए क्योकि वायु प्रदूषण को रोकने में वृक्षों का बहुत ही महत्वपूर्ण योगदान रहा हैं! पौधे कार्बन डाई ऑक्साइड लेकर हमें ऑक्सीजन प्रदान करते हैं! इसीलिए हमें सड़कों, नहरों और रेल लाइनों के किनारे पेड़ लगाने चाहिए ताकि हम अपनी आवश्यकताओं की पूर्ति कर सके और हमारे वायुमंडल भी साफ़ हो सके! औद्योगिक क्षेत्रों के आस-पास हरित पट्टियॉं लगाकर पेड़ लगाने चाहिए ताकि घातक गैंस को अवशोषित किया जा सके! पीपल और बरगद के पेड़ इसके लिए बहुत ही उपयोगी हैं!

6)
जीवाश्म ईंधनों का कम प्रयोग करके
जीवाश्म ईंधन जैसे पेट्रोलियम, कायेला आदि वायुमण्डल को प्रदूषित करते हैं, इनका प्रयोग कुछ कम करके सौर ऊर्जा, पवन ऊर्जा जैसी वैकल्पिक ऊर्जाओं का प्रयोग किया जाना चाहिए!

निष्कर्ष
मुस्कान एनजीओ द्वारा प्रदूषण को कम करने के बहुत उपाय किये गए जिसका रिजल्ट भी हमें अच्छा देखने को मिला हैं! हम भी इस संस्था के साथ जुड़कर देश से प्रदूषण को खत्म करने का प्रयास आकर सकते हैं! क्योकि अगर देश प्रदूषण मुक्त रहेगा तो तभी देश के लोगों का स्वास्थ्य ठीक रहेगा!